Thoughts on Making a U-turn

एक बार की बात है, एक आदमी कार चला रहा था। लेकिन उसका मन कहीं और उलझा हुआ था। जब वह अपनी उलझन को सुलझाने में व्यस्त था, तो वह अपनी मंजिल का रास्ता भूल गया। जब उसे अपनी गलती का अहसास हुआ तो वह अपनी मंजिल को 10 मील पीछे छोड़ चुका था। इंसान का दिमाग हर समय दौड़ता रहता है और अपनी समस्या के समाधान के लिए हमेशा कोई न कोई नया तरीका ढूंढता रहता है। न केवल तलाश करता है बल्कि सफलता भी प्राप्त करता है। तो भूले हुए ड्राइवर ने यू-टर्न लिया और फिर से सही रास्ते पर आ गया। सुनने में आया कि उस शख्स को कोई नुकसान नहीं हुआ, उसने अपनी जिंदगी के सिर्फ 10 मिनट ही बर्बाद किए थे। फिर भी वह व्यक्ति बहुत खुश था क्योंकि वह फिर से सही रास्ते पर आ गया था और सुरक्षित अपने गंतव्य पर पहुंच गया था। जी हां, आपने सही सुना, आदमी ने 10 मिनट गंवाए लेकिन इसका सुखद अंत हुआ। इसलिए वे १० मिनट जो उस आदमी ने गंवाए थे वो जायज थे। ।


छोटी लड़की के नाम से क्या लेना देना है। छोटी सी वो बच्ची जो अपनी जन्मभूमि को छोड़ कर जा चुकी थी। लड़की तो इस फ़र्श पर बने हुए अर्श को छोड़ कर जा चुकी थी। लोग इसको धरती पर स्वर्ग का फिरदोस भी कहते है। पर वो छोटी लड़की उसको अपनी खूबसूरत घाटी कहती थी। लड़की तो भूल गई पर उसकी धरती और उसके वतन की मिटी उसको कभी भूल नहीं पाई। खुदा ने उस लड़की को सब कुछ दिया था पर फिर भी वो अपने आप को एकेला महसूस करती थी।


कहते है कि यह तो इस दूनिया को बनाने वाले वली की मर्जी है कि वो मिट्टी की धूल को मिट्टी में मिलाने की समरथा रखता है। फिर वतन की मिट्टी ने उस लड़की को आवाज़ लगाई। यह कैसे हो सकता था । कि उसके वतन की मिट्टी उसको आवाज़ लगाए और वो उसको नज़रअन्दाज़ करदे। नहीं, वो ऐसा कभी नहीं कर सकती थी। इसलिए २००८ वो वापस लोट आई। वहां पे उसकी मुहाबत इंतज़ार कर रही थी। मुहाबत थी जा फ़िर उस लड़की की काली परछाई उसका पीछा कर रही थी। दुनिया से मुकाबला करने वाली लड़की को उसकी मुहाबत ने कमज़ोर कर दिया। इतना कमज़ोर कर दिए के उसको अपने आप से डर लगने लगी पर वो फिर भी लड़ती रही। उसकी रूह का प्रेमी जिसको हर साल बहादुरी का प्रेसिडेंटिअल पुरस्कार दिया जाता है वोह दो पल भी नहीं चल सका।


कहते है लड़की जितनी भोली थी उससे कही अधिक उसका दिल खूबसूरत था और उसकी दिल की खूबसूरती से कहीं अधिक उसका दिमाग शातिर था अगर बात यही ख़त्म हो जाती तो बात कुछ और होती। क्यूँकि इन सबसे अधिक उसमें हौंसला था। कोई और होती अपने आप को गोली मार कर खतम कर लेती। तीन साल हलाल होने के बाद एक दिन वो पूरे जोश के साथ उठी। उसको उस भूले हुए ड्राइवर की बात याद आई। सुना है उस लड़की ने एक दिन अपने आप से फैसला किया को वो भी अपनी जिन्दगी में ु-टर्न करेगी और अपनी जिन्दगी को रीसेट करेगी। सही सुना अपने। उसने अपनी जिन्दगी का ु-टर्न और रीसेट किए उस पॉइंट पर यहां वो उसको नहीं मिली थी।

ड्राइवर ने अपने जीवन के 10 मिनट खो दिए। लेकिन लड़की ने अपनी आत्मा, व्यक्तित्व, मानवता पर भरोसा और निश्चित रूप से अपने जीवन के 10 साल खो दिए। किसी ने उनसे पूछा कि जीवन में यू-टर्न लेने का उनका अनुभव कैसा रहा। उसकी आंखों में आंसू आ गए जिसे उसने अपनी नकली मुस्कान से छिपा लिया और उस व्यक्ति से कहा, “बेशक, यह मुश्किल और दर्दनाक था लेकिन असंभव नहीं था।”

Once upon a time, a man was driving a car. But his mind was confused elsewhere. While he was busy solving his confusion, he forgot the way to his destination. When he realized his mistake, he had left his destination 10 miles behind. The human mind runs all the time and always finds a new way to solve its problem. Not only seeks but also achieves success. So the forgotten driver did a U-turn and was on the right track again. It was heard that there was no harm to that person, he had wasted only 10 minutes of his life. Still, that person was very happy because he had again come on the right path and reached his destination safely. Yes, you heard it right, the man lost 10 minutes but it has a happy ending. So, the loss of ten minutes of his life was justified.

What does that have to do with a little girl’s name? The little girl had already left her native land. People also call it, “the paradise of heaven on earth.” But that little girl always calls it “my beautiful valley.” The girl forgot, but her land and the soil of her country never forget her. God had given everything to the girl, but still, she feels alone.

It is said that it is the will of the creator of this world that he has the ability to mix the dust with its original soil. The soil of the country had summoned the girl. How could this have happened that her birth land would summon her and she would ignore it? No, she could never do that. So in 2008, she returned to her birth land back. The love of her life was also waiting for her. It was her love or her black shadow that was chasing her.

The girl who competed with the world alone was weakened by her love. She became so weak that she started to get afraid of herself but she still kept fighting. The lover of her soul, who receives the Presidential Award for Bravery every year, could not walk along with her for two seconds.

It is said that her heart was more beautiful and naive, but her mind was more vicious than the beauty of her heart. On top of that, she was full of courage. Someone else would have killed herself. After three years of being Halal, one day she woke up with full enthusiasm. She remembered the lost driver. I have heard that one day the girl decided that she too will make a u-turn to go back in her life and reset her life. Yes, you heard that right. She made a sudden u-turn and reset at that point where she didn’t meet him yet.

The driver lost only 10 minutes of his life. But the girl lost her soul, personality, faith in humanity, and of course, 10 years of her life. Someone asked her how her experience of taking a U-turn in life. Tears welled up in her eyes which she hid with her fake smile and said to the man, “Of course, it was difficult and painful but not impossible.”

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s